बाल विवाह विरोधी दिवस “छोराछोरी बराबरी, बीस पारी विहेवारी” के नारा के संग मनाओल गेल।

60
मधेश प्रदेश मे सोमदिन बाल विवाह विरोधी दिवस “छोराछोरी बराबरी, बीस पारी विहेवारी” के नारा के संग मनाओल गेल। मधेश किशोरी बालिका सम्मेलन के आयोजन क बाल विवाह विरुद्ध दिवस मनाओल गेल । सम्मेलन के उद्घाटन करैत  समाज कल्याण राज्य मंत्री सूरीता कुमारी साह कहलनि जे, राज्य सरकार बाल विवाह के खिलाफ अभियान के मजबूती सं बढ़ावा देबय लेल प्रतिबद्ध अछि । मधेश प्रदेश बालिका समूहके अध्यक्ष शाहिदा खातूनके अध्यक्षतामे आयोजित सम्मेलनमे मन्त्री साह कहलनि जे, चूँकि बाल विवाह समाजक लेल एकटा कहर अछि, ताहि लेल एकर विरुद्ध अभियान चलाबय के चाही । राज्य सरकार सेहो २०३० तक बाल विवाह मुक्त राज्य घोषित करबाक नीति कए आगू बढ़ेबाक बात कहैत मंत्री शाह एहि मे सबहक सहयोग अनिवार्य अछि। मंत्री साह दावा केलनि जे, मधेश मे शिक्षाक अभाव मे बाल विवाहक घटना भले बढ़ि रहल अछि, मुदा पूर्व मे बाल विवाहक घटना मे कमी आयल अछि ।

राज्य सरकार सामाजिक अभिशाप बनल बाल विवाह के खिलाफ दिन बैसाख १७ के मनाबय शुरू क देलक अछि। मुख्यमंत्री सरोज कुमार यादव १७ बैसाख २०८० कए जनकपुर मे आयोजित बालिका सम्मेलन मे हर साल एहि दिन बाल विवाह विरुद्ध दिवस मनाउल जाएत घोषणा केलथि। तदनुसार खेल आरू समाज कल्याण मंत्रालय के समन्वय आरू दाता एजेंसी के सहयोग स॑ स्थानीय संस्था सिनी न॑ संयुक्त रूप स॑ बाल विवाह के खिलाफ दिवस मनाबै के काम करलकै । ओहि अवसर पर महिला, बाल आ सामाजिक न्याय समिति के अध्यक्ष रूपा यादव सब पक्ष के एकजुट भ बाल विवाह के समाप्त करय पर जोर देलखिन जे मधेश प्रांत में सामाजिक बुराई अछि। ई विकृति जँ कोनो एकटा एजेंसी करत तऽ समाप्त नहि होयत, ओ कहलीह – तेँ सबहक सहयोग अनिवार्य अछि । बाल विवाह स महिला शारीरिक आ शारीरिक रूप स कमजोर हेबाक दावा करैत यादव लड़कियों कए एहि प्रति जागरूक रहबाक आग्रह केलथि ।

खेल तथा समाज कल्याण मन्त्रालयके उपसचिव देवकुमारी खत्री बटैलै कि पिछला साल बालिका सम्मेलनके निर्णयके बाद अहि वर्ष बाल विवाह विरुद्ध दिवसके अवसरमे मधेश किशोर सम्मेलनके आयोजना भेल छल । ओ दोसर बालिका सम्मेलन के उपलब्धि आ प्रगति पर कार्यपत्र प्रस्तुत केलनि आ बेसी महिला के बाल विवाह के खतरा के जिक्र केलनि। ओ इहो कहलनि जे, दहेज व्यवस्था आ सामाजिक बंधन के प्रति जागरूक रहब जरूरी अछि, किया कि लड़की के एकर शिकार बनय पड़ैत अछि। सम्मेलनमे सुरुंगा नगरपालिकाके मेयर गीता चौधरीके सम्मानित कएल गेल । सुरुंगा मधेश प्रदेशक पहिल नगरपालिका अछि जे बाल विवाह समाप्त केलक अछि । बाल विवाह समाप्त करय आ किशोर मे निवेश करय पर आयोजित एहि सम्मेलन मे किशोर आओर चाइल्ड क्लब के अधिकारी सेहो भाग लेलखिन्ह. ओ सब एहि बात पर जोर देलनि जे बाल विवाह के खिलाफ अभियान के तीनू स्तर पर सरकार द्वारा प्रभावी ढंग सं चलाओल जाय ।

खेल तथा समाज कल्याण मन्त्रालयके कार्यवाहक सचिव चूडामणि फुयाल स्वागत भाषण देलनि आ दान संस्था यूनिसेफ, केयर नेपाल, सेव द चिल्ड्रेन, सीबीएम, प्लान इन्टरनेशनल नेपाल, असमान नेपाल, लाइफ नेपाल आदिक अधिकारी आ प्रतिनिधिसभ उपस्थित छलाह सम्मेलन के आयोजन। लाइफ नेपालके अध्यक्ष सूरत ठाकुर प्रदेश सरकार द्वारा अपनाओल गेल नीति के सफल बनेबाक लेल हाथ मे हाथ बढ़ाबय लेल तत्पर रहल बतौलनि ।